मेरा भारत महान

जो राम की जन्मभूमि है,
जो महावीर का निर्वाण स्थल है,
विश्व के आध्यात्मिक गुरु की पदवी जिसे मिली है,
जिस धरा की योगियों और ऋषि-मुनियों से पहचान है,
जिस धरती पर बुद्ध के संदेश सदैव गुंजायमान हैं,
वह मेरी भारत भूमि महान है।
गांधी, विवेकानंद कलाम जैसे विद्वानों ने बढ़ाई इसकी शान है ,
अनेकता में एकता,आध्यात्मिक और धार्मिक व्यवहार बदध्ता तथा अपनत्व की भावना की प्रबलता जिसके गुणगान है ,
वो मेरी भारत भूमि महान है।
श्रद्धा पूर्वक नमन इस धारा को,
जिसने धरोहर में पाया हो उत्कृष्ट रीति और परंपरा को,
सहज ही निरंतर प्रवाहित होते देखा है भौतिक और आध्यात्मिक सम्मिश्रण की धारा को ,
कहलाता है महान हिंदुस्तान हमारा वो।
जिसमें अत्यंत ही करुणा भाव भरा हो,
जिसने सदैव ही क्षमाशील व्यवहार करा हो, जिसका वसुधैव कुटुंबकम का नारा सोने सा खरा हो,
जिस भूमि को सर्वोत्कृष्ट ज्ञानियों ने अपनी वाणी से तरा हो ,
ऐसी धरती पर जन्म देना सौभाग्य है मेरा वो,
क्योंकि है महान भारत प्यारा वो।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.