Month: June 2022

अहम

मुझसे है संसार,मैं सबसे बड़ा खिलाडी हूँ ,मैं अहम् हूँ lमेरी ही सब जगह शान हैं ,मेरे पर वक्त मेहरबान हैं ,अंतर जानना मुझमे और घमंड में,मैं सब जगह हूँ, प्रकृति का सबसे बड़ा खिलाड़ी हूँ ,मैं अहम् हूँ lमुझसे ही सुख हैं , मुझसे ही दुःख हैं,माया का सबसे बड़ा हथियार हूँ,कामयाबी पर उछल …

Poem for independence day

India is the birthplace of Hinduism, Sikhism, and other religions,India was a golden tap,until it got demolished by some nasty old chaps (Britishers).Old forts filled with thrilling and fascinating stories to tell,where kings and soldiers used to dwell.Classical dancers feel the beat,feed your eyes and take a seat .Take a plate full of indian food,don’t …

नीरवता

वो अंधेरे में चल रहा थाअँधेरे के घने कोने मेंबोल रहा था रौशनी ढूंढ रहा हैपता नहीं कब मिलेगीलेकिन कहा कोशिश करता हूँ चलते-चलते ठोकर खाता थाथोड़ासा रुक के फिर चलता थाचोट दर्द नहीं करता है?फिर बोलता अब आदत सी हो गई हैवो अंधेरे में चल रहा था सफर काफी दूर का थानहीं रुकने का …

Raaston pe waqt ke

Raaston pe waqt ke,dil waqt paar aa gaya,Yaadon ke raqt pe,dil jeet haar aa gaya,Baatein woh narm jinpe,dil nisaar chaa gaya,Unki Khushboo ke uns se,dil pe khumaar cha gaya…Ek tarafi baat na karta,Yeh dil itna samajhdaar hai,Nadaan toh woh khwahishein hai,Jo ab waqt ke paar hai..Roshini ke palkhon pe andhera heen sawaar hai,Dil ne unhe …

Goodbye

I don’t know how to say goodbye I’ve been mulling this over in my head for a very long time. Journeys. Chronicling them. I always thought they weren’t too important and nobody wants to listen to what I have to say. What we have to say about each other y’know?Then I realised, I’m always listening. …

1990 KA SAMA

सोचते-सोचते हम बीते कल वाले समां में पहुंचे,यादों का बक्सा ले गली कूचे वाले पुराने मकाँ में पहुंचे,1990 के दूसरे वर्ष के तीसरे माह में पहुंचे,अतीत की गलियों के जाने-पहचाने उस परगना में पहुंचे,जैसे सुखद स्मृतियों के सातवे आसमाँ में पहुंचे.. वह दशक, वह दौर था, वह ज़माना कुछ और था…सुपर-हिट फिल्म वाले इतवार का,कॉलेज …