Insaan

ना वो ROTA😢 है
ना वो SOTA😴 है
मन में बातों को रख कर खुद को खोता है
बस अपनों के लिए DIN-RAAT जीता है

शादी से पहले MAA और शादी के बाद BIWI की सुनता है

पहले BAAP के कंधों का भोज
फिर BACCHO के मस्ती का घोड़ा🐴 बनता है

होता है नाक पर गुस्सा थोड़ा
पर बेटी की एक छोटी सी चोट पर बच्चों जैसा ROTA है

होता है कितना भी MACHO-MAN मगर दर्द उसको भी होता है

आखिर वो भी एक INSAAN होता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.